Himachal Weather:हिमाचल में सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, बारिश और बर्फबारी के आसार

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने 3 दिसंबर से प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के आसार जताए हैं। 3 और 4 दिसंबर को प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी और अन्य क्षेत्रों में बारिश होने की संभावना है। 

हिमाचल प्रदेश के सभी क्षेत्रों में दो दिसंबर तक मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है। सोमवार को भी राजधानी शिमला सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में धूप खिली रही। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने 3 दिसंबर से प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के आसार जताए हैं। 3 और 4 दिसंबर को प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी और अन्य क्षेत्रों में बारिश होने की संभावना है। ऊना में अधिकतम तापमान 27.7, बिलासपुर में 25.5, कांगड़ा, धर्मशाला और हमीरपुर में 24.0 तथा शिमला में 17.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। उधर, रविवार रात को केलांग में न्यूनतम तापमान माइनस 4.1, कुकुमसेरी में माइनस 3.6, कल्पा में 1.6, मनाली में 2.2, भुंतर में 2.4, सुंदरनगर में 2.6, मंडी में 4.1, हमीरपुर में 4.9, सोलन में 5.1, ऊना में 5.5, शिमला में 8.4 और धर्मशाला में 9.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। 

फोर बाई फोर वाहनों के लिए शिंकुला दर्रा बहाल
वहीं, बर्फबारी से बंद शिंकुला दर्रा फोर बाई फोर वाहनों के लिए बहाल हो गया है। प्रशासन ने भी शिंकुला दर्रे को सुबह 11:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे के बीच फोर बाई फोर वाहनों के सफर करने की अनुमति दी है। 17 नवंबर को बर्फबारी होने से शिंकुला दर्रा बंद हो गया था और जांस्कर घाटी के लोगों का संपर्क कट गया था। हालांकि शिंकुला दर्रे में टनल का निर्माण प्रस्तावित है। लाहौल-स्पीति प्रशासन ने मनाली- लेह मार्ग को दारचा से आगे ग्रांफू-काजा मार्ग लोसर तक सर्दी के मौसम को देखते हुए अधिकारिक तौर पर बंद कर दिया है। इन दोनों सड़कों को बीआरओ गर्मियों में बहाल करेगा। लाहौल-स्पीति के पुलिस अधीक्षक मानव वर्मा ने बताया कि शिंकुला दर्रा फोर बाई फोर वाहनों के लिए खोल दिया है।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *