पत्रकार के साथ बदसलूकी नहीं कि जाएगी बर्दाश्त, डॉक्टर 2 दिन के अंदर मांगे सार्वजनिक रूप से माफी

दून प्रेस क्लब पांवटा साहिब के कार्यालय में आपातकालीन बैठक आहूत की गई। बैठक दून प्रेस क्लब के अध्यक्ष अनुराग गुप्ता की अध्यक्षता में आयोजित की गई। जिसमें पिछले दिनों दून प्रेस क्लब के सदस्य मुकेश रमोल के साथ हुई बदसलूखी का मामला पीएचसी भरोग बनेडी का सामने आया।विगत दिनों पत्रकार मुकेश रमोल स्वास्थ्य केंद्र भरोग बनेडी में दवाई लेने पहुंचते हैं। जहां उन्होंने देखा कि सफाई कर्मचारी दवाई दे रहे हैं। इस बारे में जब चिकित्सक से उन्होंने बात करनी चाही तो उस पर चिकित्सक के द्वारा चुप्पी साधी गई।

चिकित्सक अमित गोयल अस्पताल में समय पर नहीं पहुंच रहे थे। जिसका वीडियो पत्रकार के द्वारा बनाया गया। उन्होंने इस पर कोई जवाब नहीं दिया। वही पत्रकार मुकेश रमोल के कैमरा छीनने और हाथापाई करने का प्रयास किया गया।स्वास्थ्य केंद्र में सफाई कर्मी व चतुर्थ कक्षा के कर्मचारी लोगों का इलाज कर रहे थे और उन्हें दवाइयां वितरित कर रहे थे जो कि लोगों के स्वास्थ्य के साथ सीधा-सीधा खिलवाड़ किया जा रहा है।यही नहीं बल्कि जब ग्राम वासियों से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि प्रतिदिन सफाई कर्मचारी दवाई देते हैं। सवाल यह है यदि इतनी बड़ी लापरवाही से किसी मरीज की जान चली जाए तो उसका जिम्मेदार कौन ? होगा

उधर इस बारे में दून प्रेस क्लब के अध्यक्ष अनुराग गुप्ता ने बताया कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के साथ इस तरह की हरकतें होगी तो पत्रकार संघ इसे बर्दाश्त नहीं करेगा
उन्होंने बताया कि यदि 2 दिन के अंदर उक्त चिकित्सक के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती

तो दून प्रेस क्लब विभाग के खिलाफ सख्त निर्णय लेने पर विवश होगा व तमाम विभागीय कार्यक्रमों का बहिष्कार करेगा।
इस बैठक में प्रेस क्लब के सभी सदस्य मौजूद रहे।ओर सभी सदस्य एकमत रहे।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *